हिमाचल प्रदेश की कृत्रिम झीलें – Artificial Lakes of Himachal – We Are Himachali

Artificial Lakes in Himachal
Loved it? Share with your friends

हिमाचल प्रदेश की कृत्रिम झीलें- Artificial lakes of Himachal

हिमाचल प्रदेश की कृत्रिम झीलें- Artificial lakes of Himachal : (The articile is important study material for the people preparing for various state tests as HAS, IAS etc )हिमाचल प्रदेश की अर्थव्यवस्था वैसे तो मुखयता पर्यटन व सेब उत्पादन पर ही निर्भर करती है परन्तु कुछ हद तक कृत्रिम झीलें भी अपना सहयोग देती है । इसलिए आज हम सब हिमाचल की कृत्रिम झीलें देखेंगे।

कृत्रिम झीले मुखयता सिँचाई, शुद्धिकारण के बाद पीने का पानी, पानी का संचय ताकि कम परवाह के समय पानी का इस्तेमाल कर सकें व ऊर्जा उत्पादन के लिए प्रयोग में लायी जाती है।इतने लाभ होने के साथ साथ इसकी कुछ हानियाँ भी है।बांध निर्माण बहुत ही खर्चीला कार्य है अतः इसके रख-रखाव को लेकर भी कई प्रश्न हैं।हिमाचलमें मुख्यता 5 कृत्रिम झीलें है। ये इस प्रकार है
1 गोविंद सागर झील

Artificial Lakes in Himachal
Source : www.letsseeIndia.com

गोविंद सागर झील हिमाचल प्रदेश की सबसे बड़ी कृत्रिम झील है।यह बिलासपुर जिले में सतलुज नदी पर बनी है।इस झील की लंबाई 88 किमी. व क्षेत्रफल 168 किमी. है।

Click here to read about wetlands of Himachal pradesh

2. पोंग झील

यह झील कांगडा जिले के नगरोटा सूरियां में स्थित है।इसकी लम्बाई 42 किमी. है। इस झील के पास पोंग बांध भी है जो 1960 में बना था। यह झील महाराणा प्रताप सागर के नाम से जानी जाती है।
3. पंडोह झील

यह झील मंडी जिले में ब्यास नदी पर बनी हुई है। यह हिमाचल की सबसे छोटी कृत्रिम झील है।इसकी लम्बाई 14 किमी. है । यह राष्ट्रीय राजमार्ग -21 के किनारे है।
4. सुंदरनगर झील

Artificial lakes in Himachal
Source : www.himtimes.com

यह झील बहुत ही सुंदर है।अपने मनमोहक दृश्य से ये कई पर्यटकों का मन मोह लेती है।यह मंडी जिले में स्थित है।ब्यास  नदी का पानी इसे एक सुंदर झील का रूप देता है।

Click here to read about Natural lakes in Himachal Pradesh

5. चमेरा झील

यह झील चम्बा जिले में स्थित है । यह झील रावी नदी पर बनी हुई है।यह झील डलहौजी से 25 किमी. की दूरी पर स्थित है। सर्दियों के दिनों में यहां का दृश्य और भी मनमोहक हो जाता है क्योंकि आस पास के वृक्ष और मैदान पूरी तरह बर्फ से ढक जाते है।
आशा है आप सब को ये प्रयास पसंद आएगा।हम जल्द ही हिमाचल की प्राकृतिक झीलों के बारे में भी जानेंगे।आप सब अपने विचार निसंदेह comment section में रख सकते हैं।

Want to share your story with the world? Want to volunteer from your area? Don’t worry, you can always contact us on wearehimachali@gmail.com or drop a WhatsApp message on 9882837038.

Prateek has worked with NATIONAL AGRI-FOOD BIOTECHNOLOGY INSTITUTE for 3 years.He is a Bio-Tech professional with B.Tech(Biotechnology) From BCET Govt College and M.tech (Biotechnology) from kurukshetra university.He loves to write, read books ,listen Music and go for trekking expedition.He is a dedicated author at WE ARE HIMACHALI .
Loved it? Share with your friends

Related posts